Budget 2023 Which sector received the gift in the budget? Who was left empty handed? He knows everything. | spcilvly

2023 ा। See More 7 minutes ्स नहीं लगेगा। हालांकि पुराने टैक्स कर प्रणाली में कोई बदलाव नहीं किया गया है। आइए जानते हैं कि वित्त मंत्री ने किन-किन सेक्ट र्स पर फोकस किया है।

1- किन्हें मिली सौगत?

एग्रीकल्चर सेक्टर

मोदी सरकार केंद्र में किसान हमेशा रहे हैं। इस बजट से पहले पीएम किसान सम्मान निधि जैसी कई स ्कीम किसानों का ध्यान रखकर मोदी सरकार ने लॉन्च किया है। वित्त वर्ष 2023-24 के लिए बजट में सरकार एग्रीकल्चर खर्च में इजाफा किया है। जोकि पूरी इकोनॉमी का 19 प्रतिशत होगा। सर हॉर्टीकल्चर, एग्रीकल्चर स्टार्टअप आदि को ब ढ़ावा अ ै। सरकार के ऐलान का फायदा कावेरी सीड्स, धानुका एग ्रीटेक, बॉम्बे सुपर हाईब्रिज सीड्स और राष्ट्र ी य केमिकल एंड फर्टीलाइर्स लिमिटेड जैसी शेयर मा र्केट की लिस्टेड कंपनियों को हो सकता है।

टूरिज्म

भारत मे टूरिज्म की भी अपार संभावनाएं हैं। More than 50 minutes उन्हें प्रमोट करने का ऐलान किया है। इस्ट क ो खाना, सिक्योरिटी, कनेक्टिविटी आदि की ज ानकारी मिल सकेगी। More information about IRCTC, more information about IRCTC, more information about और ईआईएच लिमिटेड को हो सकता है।

इंफ्रास्ट्रक्चर

मौजूदा सरकार का इंफ्रास्ट्रक्चर 2 स है। इसी को ध्यान में रखते हुए 50 नए एयरपोर्ट्स, हेली पोर्ट्स बनाने का ऐलान किया है। इसके अलावा को 2.4 लाख करोड़ रुपये का रिकॉर्ड आवं टन इस बजट में किया गया है। अडानी एयरपोर्ट्स, जीएमआर एयरपोर्ट्स इंफ्रास ्ट्रक्चर लिमिटेड, जीवीके एयरपोर्ट डेवलपर्स लि मिटेडड, एल एंड टी और भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमि टेड को हो सकता है।

स्टैंडर्ड डिडक्शन क्या है जिसमें टैक्स पेयर् स को मिलेगी 52,500 रुपये की छूट

करदाताओं को राहत

सरकार ने लम्बे समय बाद टैक्सपेयर्स को बड़ी रा हत दी है। नई कर प्रणाली अपनाने वाले लोगों की 7 years तक की आय पर कोई टैक्स नहीं देना होगा। इसके अलावा टैक्स स्लैब की संख्या में भी कटौती की गई है।

मेटल और सीमेंट

सरकार ने इंफ्ररास्ट्रक्चर के लिए बजट में बड़ी राशि आवंटित की है। जोकि मेटल और सीमेंट इंडस्ट्री के लिए अच्छा रह ेगा। सरकार के इस ऐलान का फायदा टाटा स्टील, जेएसडब्ल ्यू स्टील, जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड जैसी कं पनियों को हो सकता है।

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स

सरकार ने लिथियम ऑयल बैट्री पर लगने वाले कस्टम ड्यूटी में कटौती का ऐलान किया है। जिसका फायदा इस सेक्टर को सीधा होगा।

ग्रीन एनर्जी

सरकार कार्बन उत्सर्जन में कटौती की अपनी मंशा को पहले ही जाहिर कर दिया था। बजट में भी उसी के अनुरुप ऐलान किया गया है। 4000 min ने वाले कंपनियों का अ

2- किस-किस सेक्टर के हाथ रहे खाली?

डीफेंस सेक्टर

केएमपीजी में एयरोस्पेस हेड गौरव कहते हैं कि द ेश के पूंजीगत व्यय में 33 min िन मिलिट्री बजट में 7 प्रतिशत की ही बढ़ोतख ईहै। गौरव कहते हैं कि चीन से बढ़ते तनावों के बीच यह काफी आश्चर्यजनक है। More information More Mazagon Dock Shipbuilders Ltd नीच े आ गई।

सिगरेट हुआ महंगा

सरकार ने सिगरेट पर टैक्स बढ़ा दिया है। जिसकी वजह से इसे बनाने वाली कंपनियों के शेयरो ं में बजट के दिन के गिरावट देखने को मिली है। बता दें, सरकार का ऐलान 2 फरवरी से प्रभावी होगा।

ज्वेलरी

ज्वेलरी कंपनियों के शेयरों में भी बजट के बाद ग िरावट देखने को मिली है। इसकी बड़ी पहली सरकार ने गो्ड के इम्पोर्ट टैक ्स में कोई बदलाव नहीं किया है। इसके अलावा सरकार की तरफ से चांदी के आयात पर इम् पोर्ट टैक्स बढ़ा दिया गया है।

ऑयल रिफाइनरी

सरकार की तरफ से ऑयल रिफाइनरी कंपनियों के लिए भ ी कोई ऐलान नहीं किया गया है। जबकि ऑयल मिनिस्ट्री ने अपने प्रस्ताव में कहा था कि सरकार इन कंपनियों के घाटे को बजट से पूरा कर े।

विदेशी कार निर्माता

More information ट ैक्स देना होगा। More than 60 more than 7 0 more than 70 more या गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *